क्रेडिट कार्ड क्या है इन हिंदी और इसके प्रकार (Credit Card in Hindi)

Credit Card in Hindi – बहुत सारे लोगों को पता नहीं होता है कि Credit Card क्या है, क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार का होता है, क्रेडिट कार्ड को इस्तेमाल करने के क्या फायदे और नुकसान हो सकते हैं और क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कैसे करते हैं.

आपकी क्रेडिट कार्ड से जुड़े अनेक प्रश्नों का सही जवाब देने के लिए हमने आपके लिए यह लेख लिया है, इस लेख के माध्यम से हम आपको क्रेडिट कार्ड की पूरी जानकारी देंगे जिससे आपको पता रहे कि क्रेडिट कार्ड क्या होता है.

अगर आपका किसी भी बैंक में अकाउंट है तो आप जानते ही होंगे बैंक अपने ग्राहकों को कितनी सुविधाएं देता है जैसे कि ATM कार्ड (Debit Card), मोबाइल बैंकिंग, इन्टरनेट बैंकिंग आदि. इन्हीं में से एक सुविधा है क्रेडिट कार्ड की.

क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल धीरे – धीरे बहुत अधिक बढ़ रहा है लेकिन तब भी बहुत सारे लोगों को क्रेडिट कार्ड के बारे में पूरी जानकारी नहीं होती है. अगर आपको भी क्रेडिट कार्ड के बारे में जानकारी नहीं है तो चिंता करने की कोई बात नहीं है.

इस लेख में हमने आपको क्रेडिट कार्ड की जानकारी बहुत ही आसान भाषा में दी है जिससे आपको पता चल जायेगा. चलिए बिना देरी के शुरू करते हैं इस लेख को Credit Card Kya Hai.

क्रेडिट कार्ड क्या है (What is Credit Card in Hindi)

क्रेडिट कार्ड बैंक की ओर से अपने कस्टमर को प्रदान करवाया जाने वाला एक विशेष प्रकार का कार्ड होता है जिसके अन्दर बैंक अपने कस्टमर को विशेष प्रकार की सुविधा देते हैं. क्रेडिट कार्ड रुपे, वीसा या मास्टरकार्ड में से कोई भी हो सकता है.

क्रेडिट कार्ड के अन्दर बैंक आपको आपकी इनकम के आधार पर एक निश्चित राशि की लिमिट देता है जिसे आप ऑनलाइन शॉपिंग  और ऑफलाइन शॉपिंग  में इस्तेमाल कर सकते हैं, और जरुरत पड़ने पर निकाल भी सकते हैं. पर क्रेडिट कार्ड से आप पैसे बहुत कम प्रतिशत निकाल सकते हैं लगभग क्रेडिट कार्ड की लिमिट के 5 – 10 प्रतिशत.

अगर आप क्रेडिट कार्ड से पैसे निकलते हैं तो इसे आपको बैंक को ब्याज सहित चुकाना पड़ता है लेकिन अगर आप क्रेडिट कार्ड से केवल खरीददारी करते हैं तो आपको बैंक को कोई ब्याज नहीं चुकाना पड़ता है, मतलब जितने पैसे आपने खर्च किये उतने ही बैंक को वापस करने पड़ते हैं.

क्रेडिट कार्ड बिल्कुल डेबिट कार्ड (ATM कार्ड) की तरह ही दिखता है पर यह डेबिट कार्ड से बहुत अलग है. डेबिट कार्ड सीधे आपके बैंक अकाउंट से लिंक होता है मतलब जितने पैसे आपके बैंक अकाउंट में होंगे आप उतना ही इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन क्रेडिट कार्ड में ऐसा नहीं है. अगर आपके बैंक अकाउंट में पैसे नहीं भी हैं तो आप अपनी क्रेडिट लिमिट के अनुसार पैसे इस्तेमाल कर सकते हैं.

कुल मिलाकर कहें तो क्रेडिट कार्ड बैंक के द्वारा अपने कस्टमर को दिया जाने वाला एक कर्जा होता है जिसकी मदद से वे खरीददारी कर सकते हैं. और हर महीने इस Loan को बैंक को वापस चुकाना पड़ता है.

क्रेडिट कार्ड के प्रकार (Type of Credit Card In Hindi)

क्रेडिट कार्ड अनेक प्रकार के हो सकते हैं जिनमें से कुछ प्रमुख प्रकार के क्रेडिट कार्ड निम्न हैं –

1 – Shopping Credit Card (खरीददारी क्रेडिट कार्ड)

Shopping क्रेडिट कार्ड खरीददारी के लिए इस्तेमाल किये जाते हैं. इस क्रेडिट कार्ड की मदद से आप ऑनलाइन और ऑफलाइन खरीददारी में Discount पा सकते हैं.

2 – Travel Credit Card (यात्रा क्रेडिट कार्ड)

Travel क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल सभी प्रकार की यात्रा के लिए किया जाता है. जिन्हें घुमने – फिरने का शौक है उनके लिए यह क्रेडिट कार्ड Best है. इस क्रेडिट कार्ड में आपको एयरलाइन, बस, रेल, कैब आदि की बुकिंग में discount मिलता है.

3 – Fuel Credit Card (ईधन क्रेडिट कार्ड)

Fuel क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करके आप Fuel surcharge waivers (ईधन अधिभार छुट) का लाभ उठा सकते हैं. Fuel क्रेडिट कार्ड ईधन लेने के लिए इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि पेट्रोल, डीजल आदि.

4 – Entertainment Credit Card (मनोरंजन क्रेडिट कार्ड)

मनोरंजन से सम्बंधित खर्चों पर Discount और Offer प्रदान करवाने वाले क्रेडिट कार्ड को Entertainment Credit Card कहते हैं. इस क्रेडिट कार्ड से आप मूवी टिकट, मनोरंजन पार्क टिकट आदि खरीद सकते हैं.

5 – Reward Credit Card (इनाम क्रेडिट कार्ड)

रिवॉर्ड क्रेडिट कार्ड वह कार्ड होता है जिसमें आपके द्वारा खर्च किये जाने वाले हर रूपये में बैंक आपको कुछ न कुछ रिवॉर्ड देता है.

6 – Secured Credit Card (सुरक्षित क्रेडिट कार्ड)

जिन लोगों का क्रेडिट स्कोर ख़राब होता है उन्हें बैंक क्रेडिट लिमिट के बराबर की राशि जमा करके सुरक्षित क्रेडिट कार्ड देते हैं.

क्रेडिट कार्ड कैसे काम करता है

जब भी आप कोई खरीददारी करते हैं और क्रेडिट कार्ड का उसका भुगतान करते हैं तो बैंक उस विक्रेता को भुगतान कर देता है जिससे आप पर बैंक का उधार हो जाता है, और इस उधार को आपको हर महीने बैंक को वापस देना पड़ता है.

अगर आप समय पर क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान नहीं करते हैं तो बदले में बैंक आपसे कुछ प्रतिशत ब्याज लेता है. क्रेडिट कार्ड की एक लिमिट होती है जिसके हिसाब से आप खरीददारी कर सकते हैं. बैंक आपकी क्रेडिट कार्ड की लिमिट का निर्धारण आपके खाते में हो रहे लेन – देन के अनुसार करता है.

क्रेडिट कार्ड के फायदे

क्रेडिट कार्ड को इस्तेमाल करने के निम्न फायदे होते हैं –

  • अगर आपके बैंक खाते में पैसे नहीं हैं तो भी आप क्रेडिट कार्ड की मदद से कही भी बिल का भुगतान कर सकते हैं.
  • अलग – अलग प्रकार के क्रेडिट कार्डों की मदद से आप अलग – अलग वस्तुओं में छुट पा सकते हैं. जैसे कि ट्रेवल क्रेडिट कार्ड से बुकिंग में, शॉपिंग  क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग  में
  • क्रेडिट कार्ड के द्वारा आप अपने नियमित खर्चों का प्रबंधन कर सकते हैं.
  • अगर आप क्रेडिट कार्ड से खर्च किये गए पैसों का समय से भुगतान करते हैं तो आपका क्रेडिट स्कोर सुधरता है.
  • क्रेडिट कार्ड की मदद से आप कोई भी महंगी चीज को आसान किस्तों में ले सकते है.
  • क्रेडिट कार्ड पर ब्याज देने की जरुरत नहीं पड़ती है.
  • एमरजेंसी में समय में आप क्रेडिट कार्ड से लोन भी ले सकते हैं.

क्रेडिट कार्ड के नुकसान

जहाँ एक ओर क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करने के बहुत सारे फायदे हैं वही दूसरी ओर इसके कुछ नुकसान भी हैं जैसे कि –

  • क्रेडिट कार्ड के बिल का समय से भुगतान न करने पर बैंक को ब्याज देना पड़ता है.
  • क्रेडिट कार्ड से पैसे निकालने पर भी बैंक को भारी ब्याज देना पड़ता है.
  • क्रेडिट कार्ड का अधिक इस्तेमाल करने से बैंक में कर्जा बढ़ जाता है जिससे सेविंग प्रभावित हो सकती है.
  • अधिकतर क्रेडिट कार्ड में वार्षिक चार्ज होता है जिसे कार्ड धारक को Pay करना होता है.

क्रेडिट कार्ड कैसे बनता है

क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए कुछ बुनियादी शर्ते या योग्यता होती हैं जो निम्न प्रकार से है –

  • आवेदक की उम्र 18 से अधिक की होनी चाहिए.
  • क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान करने के लिए आय का नियमित श्रोत होना चाहिए.
  • क्रेडिट स्कोर बेकार नहीं होना चाहिए.

इसके अलावा सभी बैंक के पास अलग – अलग ग्राहकों के लिए अलग – अलग योग्यता है जिसके आधार पर वह क्रेडिट कार्ड देते हैं.

क्रेडिट कार्ड के लिए कैसे अप्लाई करें

क्रेडिट कार्ड के बढती मांग के कारण बैंकों ने क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करना बहुत आसान बना दिया है. आप ऑनलाइन मोबाइल से और ऑफलाइन बैंक में जाकर दोनों प्रकार से क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

ऑनलाइन क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें

  • ऑनलाइन क्रेडिट कार्ड आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको सम्बंधित बैंक के ऑनलाइन पोर्टल पर जाना होगा.
  • इसमें बाद उसमें क्रेडिट कार्ड आवेदन वाले फॉर्म को ढूँढना होगा और उसमें अपनी बेसिक जानकारी जैसे नाम, पता. फोन नंबर आदि भरने होंगे. और अपने खाते का पूरा विवरण देना होगा.
  • ID proof के तौर पर आप वोटर ID कार्ड, पैन कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट आदि का इस्तेमाल कर सकते हैं.
  • क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करने के बाद कुछ ही दिन में आपको बैंक एजेंट का कॉल आएगा और आगे की पूरी कारवाही वह आपको बता देगा.

ऑफलाइन क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें

ऑफलाइन क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करना बहुत ही आसान है. इसके लिए आपको अपने बैंक में जाकर ब्रांच मेनेजर से बात करनी होगी. बैंक मेनेजर आपको क्रेडिट कार्ड को अप्लाई करने की सारी Process बता देंगे.

इन्हें भी पढ़े 

क्रेडिट कार्ड से जुड़े सामान्य प्रश्न    

क्रेडिट कार्ड क्या है?

क्रेडिट कार्ड बैंक की ओर से अपने ग्राहकों को प्रदान करवाया जाने वाला एक कार्ड होता है जिसके अंतर्गत कार्ड धारक बैंक से दी गयी क्रेडिट लिमिट के आधार पर पैसा खरीददारी, बिल का भुगतान करने में इस्तेमाल कर सकते हैं. हर महीने बैंक के क्रेडिटकार्ड द्वारा इस्तेमाल की गयी राशि का भुगतान आपको करना होता है.

क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते हैं?

क्रेडिट कार्ड अनेक प्रकार के हो सकते हैं जैसे – शॉपिंग क्रेडिट कार्ड, ट्रेवल क्रेडिट कार्ड, फ्यूल क्रेडिट कार्ड, रिवॉर्ड क्रेडिट कार्ड, सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड, एंटरटेनमेंट क्रेडिट कार्ड इत्यादि.

क्रेडिट कार्ड के लिए सैलरी कितनी होनी चाहिए?

अलग – अलग बैंको के नियम और शर्तें भी अलग – अलग होती हैं इसलिए आप बैंक में जाकर पता कर सकते हैं कि आपको आपकी सैलरी के आधार पर क्रेडिट कार्ड मिल सकता है या नहीं.

क्रेडिट कार्ड में न्यूनतम देय राशि क्या है?

न्यूनतम देय राशि (Minimum Due Amount) कुल बकाया देय राशि की एक छोटी राशि होती है जिसका भुगतान करके लेट पेमेंट पेनल्टी से बचा जा सकता है.

क्रेडिट कार्ड कितने दिन में बनता है?

क्रेडिट कार्ड आवेदन करने के बाद 48 से 72 घंटों के अन्दर बन जाता है.

क्रेडिट कार्ड में बैलेंस कैसे चेक करें?

आप मासिक क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट या क्रेडिट कार्ड के नेट बैंकिंग खाते में लॉग इन करके या बैंक की ऑफिसियल एप्प की मदद से क्रेडिट कार्ड का बैलेंस चेक कर सकते हैं.

निष्कर्ष: क्रेडिट कार्ड क्या होता है

इस लेख के माध्यम से हमने आपको Credit Card Kya Hai की पूरी जानकारी दी है जो आपके लिए जरुर उपयोगी साबित हुई होगी. उम्मीद करते हैं आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख What Is Credit Card In Hindi जरुर पसंद आया होगा और इसे सोशल मीडिया के द्वारा अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें.

Ranjeet Singh
Ranjeet Singh

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम रणजीतसिंह है और मै एक प्रोफेशनल ब्लॉगर और एक Youtuber हूँ. LoanKaise.com ब्लॉग पर हम आपको विभिन्न प्रकार के लोन विकल्पों के बारें में विस्तार से बताते है. इस ब्लॉग पर हम किसी भी प्रकार का लोन नहीं देते, बस लोन सम्बंधित सही जानकारी आपके साथ शेयर करते है. ब्लॉग पर आने के लिए धन्यवाद!

Leave a Comment