दूकान लोन योजना क्या है और दूकान लोन कैसे ले (Dukan Loan Kaise Le)

Dukaan Loan Kaise Le: आजकल की प्रतियोगिता और महंगाई के दौर में अच्छी नौकरी मिलना आसान नहीं होता है. ऐसे में लोग खुद का कोई काम शुरू करना चाहते हैं या अगर अपनी दुकान बनाने या खोलने का सपना होता है तो उसे पूरा करना चाहते हैं. दुकान बनाने में पैसे अधिक लगते हैं और हमें पैसों की ज़रूरतों का ध्यान रखकर दुकान बनानी भी होती है. इस समस्या का समाधान दुकान के लिए लोन लेकर किया जा सकता है.

अनुक्रम दिखाए

आज हम बात करेगें की कैसे दुकान बनाने के लिए लोन ले सकते हैं. जिन लोगों को अपनी खुद की दुकान खोलनी हो वह कैसे खोल सकते हैं. दुकान बनाने या खोलने के सपने को पूरा करने के लिए दुकान लोन के बारे में इस लेख में महत्वपूर्ण जानकारियाँ लिखी गई है. इस लेख के माध्यम से दुकान बनाने के लिए लोन संबंधी ज़रूरी बातों के बारे में जानकारी मिलेगी. कोई भी दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन से संबंधित जिज्ञासा होगी उसका समाधान मिल जाएगा.

दुकान लोन योजना क्या है (Dukan Loan In Hindi)

दुकान लोन भारत में किसी भी जगह दुकान खोलने या बनाने या खरीदने के लिए बैंक या वित्तीय संस्थानों से लोन के रूप में ली गई धनराशि होती है. दुकान लोन योजना से हर तरह की दुकान बनायी या खोली जा सकती है जैसे- किराने की दुकान, कपड़ों की दुकान, दवाईयों की दुकान, परचून की दुकान, खाने पीने की दुकान आदि. दुकान लोन की ब्याज दर बैंक के हिसाब से अलग-अलग होती है.

दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन के फायदें

दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन के अनेक फायदे होते हैं. अगर हमारी अपनी दुकान होती है तो अपनी आर्थिक स्थिति सुधारी जा सकती है. दुकान बनाने के सपने को पूरा किया जा सकता है.

दूकान लोन योजना क्या है इससे दूकान लोन कैसे ले (Dukan Loan Kaise Le)

आर्थिक संकट में दुकान जीवन की रोज़मर्रा की ज़रूरतों को पूरा करने में सहायक होती है. तो जानते हैं दुकान लोन के फायदे जो इस प्रकार हैं:

दुकान व दुकान से कमाई लंबे समय रहना

इस लोन के ज़रिए दुकान बनाने वाले अपनी दुकान बनाने या खोलने का उद्देश्य पूरा कर लेते हैं क्योंकि लोन की किश्त अधिक समय की होती है जिससे दुकान भी रहती है और दुकान से कमाई भी होती रहती है.

लोन में शीघ्रता

बैंक दुकान बनाने के लिए लोन अधिकतर छोटे व्यापार करने वालों को ध्यान में रखकर देती है जिस कारण दुकान बनाने या खोलने के लिए जल्दी लोन मिल जाता है. बैंक द्वारा लोन लेने वाले की वैलिडिटी निश्चित करने और वेरिफिकेशन करने के बाद लोन बैंक अकाउंट में जल्द ट्रांसफर कर दिया जाता है.

लोन लेने वालों को शीघ्र मंसूरी मिल जाती है

इस तरह के लोन छोटे बिज़नेस लोन के अंतर्गत आते हैं जिसकी लोन राशि अधिकतर कम होती है और अगर धनराशि 2 लाख के करीब हो तो पेपर वर्क कम होता है और केवाईसी के द्वारा लोन को शीघ्र मंज़ूरी मिल जाती है.

 दुकान बनाने के लिए लोन में कम ब्याज की सुविधा

छोटे बिज़नेस को बढ़ावा देने के लिए सरकार उनके रोज़गार को प्रोत्साहित करने के लिए बैंक के साथ मिलकर अनेक योजनाएँ चलाती है. इस योजना के तहत दुकान के लिए लोन की सुविधा कम ब्याज दर पर दी जाती है.

लोन भुगतान में सुविधा

अगर हम लोन लेना चाहते हैं तो यह चिंता रहती है कि निर्धारित समय पर लोन भुगतान कैसे कर पायेगें? तो इस समस्या के समाधान हेतु हम अपनी कमाई के तहत दुकान लोन को आसान किश्तों में बदलकर पुनर्भुगतान कर सकते हैं. दुकानदार लोन का समय सुविधा के अनुसार चयन कर सकते हैं जो 2 साल/5 साल/ 7 साल/10 साल आदि कुछ भी हो सकता है.

दुकान बनाने के लिए लोन लेने की पात्रता

दुकान बनाने या खोलने के लिए अधिकतर अतिरिक्त राशि की ज़रूरत पड़ जाती है जिसको पूरा करने के लिए लोन लेना पड़ता है. दुकान लोन अनेक बैंकों से आसानी से प्राप्त किया जा सकता है. दुकान बनाने या खोलने के तहत लोन लेने के लिए बैंक द्वारा कुछ पात्रता निर्धारित की गई है जो इस प्रकार है :

  • लोन लेने वाला भारत का नागरिक हो.
  • लोन लेने वाले की न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम आयु 65 वर्ष हो.
  • लोन लेने वाले की बैंक हिस्ट्री अच्छी होनी चाहिए. किसी भी प्रकार का पुराना क्रिमिनल रिकॉर्ड ना हो.
  • लोन लेने के लिए सही उद्देश्य व दुकान सही जगह बनाई जाएगी इसकी सही जानकारी देनी होती है.
  • लोन लेने के लिए पुराने बिज़नेस के बारे में भी सही जानकारी देनी होती है जो कम से कम 6 महीने पुराना हो.

दुकान बनाने के लिए लोन संबंधित आवश्यक दस्तावेज़

दुकान बनाने या खोलने के लिए बैंक कुछ ज़रूरी दस्तावेज़ माँगता है जिससे लोन की सुनिश्चितता बनी रहे जो लोन लेने के लिए ज़रूरी होते हैं. दुकान लोन के लिए आवश्यक दस्तावेज़ इस प्रकार हैं :

1) एड्रेस प्रूफ के रूप में

  • वोटर आईडी कार्ड
  • राशन कार्ड
  • रेंट एग्रीमेंट
  • ड्राइविंग लाइसेंस

2) आईडेंटिटी प्रूफ के रूप में

  • आधार कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • पैन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो

3) दुकान लोन के लिए अन्य दस्तावेज़

  • पिछले 6 महीने की बैंक स्टेटमेंट
  • अगर दुकान पहले से है तो उस दुकान का ओनरशिप सर्टिफिकेट
  • दुकान से संबंधित जीएसटी नंबर, पेनकार्ड, करंट अकाउंट की जानकारी
  • बिज़नेस प्रूफ
  • कास्ट सर्टिफिकेट

दुकान के लिए लोन कैसे लें? (Dukaan Ke Liye Loan Kaise Le)

दूकान खोलने या बनाने के लिए दो प्रकार से लोन के अप्लाई कर सकते है जो निम्न है-

बैंक में जाकर दुकान लोन अप्लाई करें

ऑफलाइन दुकान के लिए लोन इस प्रकार अप्लाई किया जा सकता है:

  • दुकान लोन दुकान बनाने या खोलने के लिए किसी भी बैंक में जाकर लोन संबंधित जानकारी प्राप्त करें.
  • लोन संबंधित जानकारी लेने के बाद वहाँ लोन अधिकारी से मिलकर लोन प्रोसेस के लिए लोन अप्लाई करें और ज़रूरी डॉक्युमेंट्स के साथ फॉर्म भर कर जमा करें.
  • लोन के लिए जमा कराए गए दस्तावेज़ों की बैंक जाँच करता है. उसकी वैलिडिटी चेक करता है और लोन की योग्यता की जाँच पड़ताल होती है.
  • लोन की जाँच पड़ताल के बाद अगर सारे दस्तावेज़ सही हैं और कस्टमर लोन के योग्य पाया जाता है तो तुरंत बैंक कुछ ही समय के बाद लोन दे देता है.

दुकान बनाने के लिए घर बैठे लोन ऑनलाइन अप्लाई करें

ऑनलाइन अप्लाई इस प्रकार किया जा सकता है-

  • लोन अप्लाई करने के लिए बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाये जिस बैंक से लोन लेना चाहते हैं.
  • वेबसाइट पर जाकर एप्लीकेशन फॉर्म अपलोड करें और फॉर्म भरने के बाद आवश्यक डॉक्युमेंट्स अपलोड करके सबमिट करें.
  • यदि आप दूकान लोन के लिए योग्य है तो आपको जल्द लोन राशी आपके बैंक अकाउंट में मिल जाएगी.

नॉनफाइनेंशियल बैंकिंग कंपनी द्वारा लोन की प्राप्ति

बैंक के अतिरिक्त एनबीएफसी के माध्यम से भी दुकान बनाने या खोलने के लिए भी लोन मिल सकता है उसके लिए लोन के लिए अप्लाई करना पड़ता है. यह कंपनियाँ भी दुकान लोन जैसे मेडिकल स्टोर के लिए लोन, कपड़े की दुकान के लिए लोन आदि के लिए सुविधाजनक ऑफर देती है.

दुकान बनाने के लिए कितना लोन मिलता है

दुकान बनाने या खोलने के लिए बैंक अपने हिसाब से 50 हज़ार से लेकर 5 करोड़ तक का लोन दे सकती है. बैंक से लोन लेने के लिए कुछ नियमों व शर्तों को मानना पड़ता है. दुकान लोन सरकारी व प्राइवेट बैंक लोन की धनराशि के हिसाब से ब्याज दर निर्धारित करते हैं. लोन की राशि व ब्याज दर सभी बैंक में अलग-अलग होते हैं और नियम एवं शर्तें भी अलग होती हैं.

दुकान बनाने के लिए लोन लेने से पहले संबंधित मुख्य जानकारी

दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन संबंधित कुछ बातें जानना ज़रुरी होता है जिसकी जानकारी लोन लेने से पहले पता होनी चाहिए. अगर कोई समस्या हुई तो समाधान किया जा सकता है. तो जानते हैं वह ज़रूरी बातें जो लोन लेने से पहले जाननी चाहिए जो इस प्रकार हैं :

  • किसी भी बैंक से लोन लेने के लिए लोन प्रोसेस से गुज़रना पड़ता है.
  • बैंक उसी व्यक्ति को लोन देती है जो लोन चुकाने में समर्थ होते हैं और उसकी जानकारी प्राप्त करके ही लोन दिया जाता है.
  • बैंक से लोन लेने के लिए सही बैंक का चुनाव करना सही रहता है जिस के नियम व शर्तें हम पूरा कर सकते हैं. बैंक का ब्याज दर आदि बातें हमारे अनुकूल है या नहीं यह जानकर ही बैंक से लोन के लिए अप्लाई करना सही रहता है.
  • दुकान बनाने या खोलने की अपनी योग्यता को ध्यान में रखकर लोन के लिए अप्लाई करें ताकि बैंक की तरफ से या दूसरे कारणों से लोन लेने में किसी प्रकार की परेशानी से सामना ना हो.

दुकान बनाने के लिए कौन कौन से बैंक लोन की सुविधा देते‌ हैं

दुकान बनाने या खोलने के लिए अधिकतर सभी सरकारी और प्राइवेट बैंक लोन देते हैं. दुकान लोन लेने के लिए सभी बैंकों की लोन संबंधित जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए ताकि अपने लिए योग्य बैंक का चुनाव किया जा सके जो हमारे लिए उपयुक्त हो. लोन संबंधित हर बैंक के नियम और शर्तें व ब्याज दर भिन्न होते हैं. लोन की राशि के हिसाब से ब्याज दर निर्धारित होती है जो हर बैंक में अलग-अलग होती है.

दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन देने वाले कुछ मुख्य बैंक इस प्रकार हैं:

  • एचडीएफसी बैंक
  • स्टेट बैंक ऑफ इंडिया
  • इंडियन बैंक
  • आईसीआईसीआई बैंक
  • आईडीबीआई बैंक
  • पंजाब एंड सिंध बैंक
  • बैंक ऑफ कॉमर्स बैंक आदि

दुकान बनाने के लिए लोन की विशेषताएँ

दुकान बनाने के लिए लोन लेने में कई लाभ प्राप्त होते हैं जो दुकान बनाने या खोलने में सहायक सिद्ध होते हैं. दुकान लोन की अनेक विशेषताओं के कारण दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन लिया जा सकता है जो इस प्रकार हैं :

  • दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन ब्याज दर बिज़नेस की ज़रूरत पर निर्भर होते हैं.
  • दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन धनराशि 50 हज़ार से लेकर 5 करोड़ तक ली जा सकती है. हर बैंक में ये राशि अलग भी हो सकती है.
  • दुकान लोन की प्रोसेसिंग चार्ज शून्य भी हो सकती है व लोन राशि के अनुसार 4% तक भी हो सकती है. विभिन्न बैंक में प्रोसेसिंग चार्ज अलग अलग भी हो सकते हैं.
  • अगर दुकान लोन अनसिक्योर्ड है तो किसी भी प्रकार की सिक्योरिटी जमा करने की ज़रूरत नहीं होती है.
  • दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन भुगतान की समय अवधि 12 महीने से लेकर 4 साल तक की हो सकती है. इस समय अवधि में बैंक के हिसाब से अंतर भी हो सकता है.
  • हर बैंक में फोरक्लोज़र फीस भिन्न होती है जो लोन राशि के हिसाब से निर्धारित की जाती है.
  • लोन जल्दी ट्रांसफर हो जाता है. ब्याज दर कम होती है. रिपेमेंट में फ्लैक्सिबिलिटी होती है.

दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन से जुड़ी जानकारी

मुख्य बिंदु विवरण
लोन का पर्याय दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन
दुकान लोन की राशि5 करोड़ रुपए तक
दुकान लोन चुकाने का समय12 महीने से 4 साल
प्रोसेसिंग फीसलोन राशि का 2% से 4% (अनुमानित)
लोन लेने की आयु18 वर्ष से 65 वर्ष

कुछ बैंक से दुकान लोन संबंधित जानकारी

SBI (स्टेट बैंक ऑफ इंडिया) से दूकान लोन

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से दुकान बनाने या खोलने के लिए करीब 50 हज़ार रूपए से 10 लाख तक लोन ले सकते हैं. 50 हज़ार रूपए के लोन में प्रोसेसिंग फीस नहीं लगती है. 10 लाख तक के लोन में 0.5% प्रोसेसिंग फीस लगती है.

OBC (ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स) से दूकान लोन

ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स बैंक से दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन 1 करोड़ तक ले सकते हैं. लोन चुकाने की अवधि इस बैंक में 3 से 7 वर्ष तक की होती है.

IDBI (आईडीबीआई) से दूकान लोन

आईडीबीआई बैंक से दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन 5 करोड़ तक ले सकते हैं.

दुकान बनाने के लिए लोन लेने में क्या-क्या चार्ज लगते हैं

दुकान बनाने या खोलने के लिए अलग-अलग बैंक एवं नॉनफाइनेंशियल बैंकिंग कंपनियाँ विभिन्न प्रकार के चार्ज लेती है. कुछ चार्ज सभी बैंकों में बाज़ार दर के आधार पर लिए जाते हैं जैसे लोन कोस्ट, प्री काॅनक्लूजन चार्जेस, लम सम क्रेडिट हैंडलिंग चार्जेस, इंस्टॉलमेंट चार्जेस, पेंडिंग ईएमआई चार्ज आदि.

FAQs: शॉप खोलने के लिए लोन कैसे मिलेगा?

क्या आधार कार्ड के ज़रिए दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन मिलता है?

हाँ, ऑनलाइन के द्वारा घर बैठे www.aadharhousing.com वेबसाइट से आधार कार्ड के ज़रिए मोबाइल फोन से भी लोन के लिए अप्लाई किया जा सकता है. करीब 10 लाख तक का लोन आधार कार्ड से आसानी से प्राप्त किया जा सकता है.

दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन कहाँ से लिया जा सकता है?

दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन विभिन्न बैंकों से लिया जा सकता है जैसे – स्टेट बैंक ऑफ इंडिया बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, आईडीबीआई बैंक, इंडियन बैंक आदि.

क्या दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन लेने पर कुछ गिरवी रखना पड़ता है?

नहीं, दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन लेने पर कुछ गिरवी रखने की ज़रूरत नहीं पड़ती है.

क्या नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी से दुकान के लिए लोन मिलता है?

हाँ, नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी से दुकान के लिए आसानी से लोन मिलता है.

क्या दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन लेने पर बैंक सीआईबीआईएल (CIBIL) स्कोर की जाँच करता है?

हाँ, दुकान बनाने या खोलने के लिए लोन लेने पर बैंक सीआईबीआईएल (CIBIL) स्कोर की जाँच करता है.

इन्हें भी पढ़े 

निष्कर्ष – दूकान लोन योजना क्या है और लोन कैसे ले

दुकान बनाने या खोलने के लिए धनराशि के अभाव में दुकान लोन लेना सहायक होता है. प्रस्तुत लेख में दुकान लोन से संबंधित मुख्य जानकारी के बारे में बताया गया है जो आपको दुकान बनाने या खोलने में मार्गदर्शन ही देगा.

इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें जिससे उनको भी दूकान लोन लेने में आसानी हो. किसी भी प्रकार का प्रश्न कमेंट बॉक्स में जरुर पूछ लेवें .

5/5 - (2 votes)

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम रणजीतसिंह है और मै एक प्रोफेशनल ब्लॉगर और एक Youtuber हूँ. LoanKaise.com ब्लॉग पर हम आपको विभिन्न प्रकार के लोन विकल्पों के बारें में विस्तार से बताते है. इस ब्लॉग पर हम किसी भी प्रकार का लोन नहीं देते, बस लोन सम्बंधित सही जानकारी आपके साथ शेयर करते है. ब्लॉग पर आने के लिए धन्यवाद!

Leave a Comment