600+ RBI Banned Fake Instant Loan Apps List In India 2022 (Hindi)

RBI/NBFC Banned Fake Instant Loan Apps List In India: भारत में जिस तरह से लोन देने में बैंक व फाइनेंस कंपनियाँ कई ऑफर देती हैं. उसी तरह आज कल illegal Fake Loan Apps का जाल भी फैलता जा रहा है. लोगों को पैसों की ज़रूरत होती है व उन्हें लोन जल्दी और शीघ्र चाहिए होता है जिसका फायेदा फ्रॉड करने वाले उठाते हैं इसलिए लोन लेने के लिए जितनी जल्दी की जाती है उतनी ही सावधानी बरतनी चाहिए.

Best Instant Loan App हमारे आर्थिक संकटों को दूर करने में लोन काफी सहायक सिद्ध होते हैं. लेकिन Fake Loan App से सावधान रहने की ज़रूरत होती है. प्रस्तुत लेख में Fake Loan Apps से संबंधित जानकारी लिखी गई है. जिसमें आपको Fake Loan App के कई पहलुओं को बताया गया है जिससे महत्वपूर्ण तथ्यों के बारे में पता चलेगा और फ्रॉड लोन से बचा जा सकता है.

Fake Loan App क्या है (Fake Instant Loan App In Hindi)

Fake Loan App एक ऐसा ऐप है जो लोगों को लोन के नाम पर धोखा देते हैं. मैसेज व लिंक के ज़रिए फोन डाटा चोरी किया जाता है. जिसमें लोन के नाम पर अतिरिक्त पैसे लिए जाते हैं और लोग यकीन करके पैसे जमा करा देते हैं. जिसकी कोई गारंटी नहीं होती है. यह ऐप लोगों के पर्सनल डाटा का गलत तरीके से प्रयोग करते हैं और आपका बैंक अकाउंट खाली कर देते है.

लोन देने के नाम पर कैसे फ्रॉड होता है

लोन के नाम पर मोबाइल फोन में मैसेज द्वारा लिंक भेजा जाता है और दावा किया जाता है कि लिंक पर क्लिक करने पर लोन मिल जाएगा जिसके लिए कोई सिक्योरिटी नहीं लगेगी और ना ही दस्तावेज़ों की ज़रूरत पड़ेगी.

RBI & Nbfc Banned illegal Fake Instant Loan Apps List In India

अधिकतर लोग लोन संबंधित सही जानकारी न होने पर भेजे गए लिंक पर क्लिक कर देते हैं जिससे समस्या खड़ी हो जाती है.

ऐसे ऐप लोन सम्बंधित मैसेज फोन,सोशल मीडिया, व्हाट्सएप में भेजते हैं. लिंक भेज कर लिखा जाता है लिंक पर क्लिक करें और तुरंत लोन पायें. फ्रॉड करने वाले लोन के नाम पर भेजे गए लिंक पर क्लिक करने के लिए और प्ले स्टोर से ऐप डाउनलोड करने के लिए बोलते हैं.

 जबकि कोई भी बैंक मात्र लिंक क्लिक करके व ऐप डाउनलोड कर लोन नहीं देता है. लिंक पर क्लिक करने से पर्सनल जानकारी शेयर हो जाती है. जिस वजह से फ्रॉड करने वाले उसका फायेदा उठा लेते हैं और Fake Loan Appके ज़रिए फ्रॉड करते हैं.

Fake Loan App को जानकारी कैसे मिलती है

Fake Loan App के ज़रिए फ्रॉड करने वाले फोन से जानकारी चुराते हैं. जब वह कोई ऐप डाउनलोड के लिए कहते हैं तो उसके ज़रिए फोन की जानकारी उनके पास चली जाती है जहाँ वो बैंक संबंधित मैसेज व ईएमआई संबंधित जानकारी जानकर ऑनलाइन पैसे देने की बात करते हैं.

 कभी कहा जाता है कि ईएमआई ड्यू है तो कभी कहा जाता है बैंक का ऑफर है पैसे देकर बैंक से लोन बंद कर दें नई स्कीम मिलेगी आदि तरह की फेक बातें बोली जाती हैं. इनकी बातों में आकर जो बात मान लेते हैं वह फंस जाते हैं और पैसे भुगतान करने पड़ जाते हैं.

Fake Loan App से कैसे धोखा दिया जाता है

Fake Loan App को ऐसे बनाया जाता है कि जो भी उस ऐप को डाउनलोड करेगा और फॉलो करेगा तो फोन का डाटा शेयर हो जाता है. शीघ्र लोन देने का लालच देकर बिना डॉक्युमेंट्स, बिना पूछताछ, बिना सिक्योरिटी माँगे ऐप के माध्यम से लोन देने की बात कही जाती है.

 लोन एडवांस के नाम पर पैसे माँगे जाते हैं और लोग एडवांस देकर जब ऐप से लोग अपना अकाउंट डिएक्टिवेट कर देते हैं और ऐप अनस्टॉल भी कर देते हैं तो दूसरे ऐप से लोन अप्रूव का मैसेज आता है और जब ऐप डाउनलोड की जाती है तो उसमें अकाउंट भी होता है और पैसे क्रेडिट हुए हैं यह भी दिखाया जाता है.

अगर इस समस्या की शिकायत की जाती है तो भुगतान राशि अधिक माँगी जाती है और गलत व्यवहार किया जाता है. फोटो का गलत प्रयोग कर उनके जान पहचान वालों को भेजने की धमकी दी जाती है और पैसे माँगे जाते हैं. कई नोटिस भेजे जाते हैं ताकि भुगतान किया जाए. पैसे देने के लिए गलत मैसेज देकर लोगों को परेशान किया जाता है.

Fake loan Apps की पहचान कैसे करें

पैसों की अधिक ज़रूरत और शीघ्र लोन के कारण Fake Loan App की पहचान नहीं हो पाती है और हम सब गलत ऐप से लोन के लिए अप्लाई कर देते हैं जिसका फायेदा फ्रॉड करने वाले उठाते हैं. अतः Fraud Loan App की पहचान होना अनिवार्य हो जाता है ताकि धोखा ना मिले. कुछ बातों का ध्यान रखकर इन ऐप्स की पहचान की जा सकती है. जो इस प्रकार है :

#1 Unknown source से ऐप डाउनलोड करने से बचें

अगर लोन से संबंधित किसी भी तरह का मैसेज या लिंक फोन या सोशल साइट आदि पर आता है तो उससे कोई भी ऐप डाउनलोड नहीं करें क्योंकि उन ऐप में वायरस भी होता है जो फोन का डाटा शेयर कर लेता है. प्ले स्टोर या ऐप स्टोर से ऐप डाउनलोड करना सुरक्षित होता है लेकिन प्रॉपर जानकारी लेकर ही डाउनलोड करना चाहिए.

#2 लोन के लिए आधार कार्ड का प्रलोभन दिया जाता है

प्ले स्टोर पर लोन संबंधित अनेक ऐप मिल जाते हैं जो यह दावा करती है कि मात्र आधार कार्ड और पैन कार्ड के ज़रिए लोन लिया जा सकता है. इस तरह के ऐप डाउनलोड करने पर वायरस तो आते ही हैं साथ में डाटा भी चोरी हो जाता है और फिर इन जानकारियों से फ्रॉड किया जाता है.

#3 लोन के लिए सीआईबीआईएल (CIBIL) लोन शून्य वाले ऐप से बचें

लोन के लिए अगर कोई ऐप CIBIL लोन शून्य की बात करता है तो उस ऐप से लोन नहीं लें उसमें प्रोसेसिंग चार्ज ज्यादा होती है. इस तरह के लोन ऐप अधिकतर फेक होते हैं और लोन के नाम पर ब्याज दर की बात कर लोन 25 से 30% तक पैसे लिए जाते हैं.

#4 कम समय अवधि में लोन प्राप्त से बचें

लोन के लिए प्ले स्टोर में कई ऐप है जो कम समय अवधि लगभग 6 से 7 दिन के समय में लोन देने का लालच देते हैं. ऐसे लोन देने वाली ऐप से बचें क्योंकि ऐसे ऐप कर्ज़ा बढ़ा देते हैं.

#5 ऐप परमिशन का ध्यान रखें

जब भी कोई ऐप डाउनलोड किया जाता है तो ऐप परमीशन का नोटिस आता है उस नोटिस में दी गई बातों की जानकारी रखें कि ऐप कौन सा डाटा  शेयर करेगा. इस बात का ध्यान रखें कि ऐप द्वारा फोन स्टोरेज व कांटेक्ट लिस्ट का ब्यौरा नहीं लिया गया हो.

#6 क्रेडिट हिस्ट्री न लेने वाले ऐप से बचें

लोन ऐप अगर लोन बिना Cibil और credit हिस्ट्री जाने लोन देने की बात करते हैं उस तरह के ऐप अधिकतर कांटेक्ट लिस्ट डाउनलोड करते हैं और उस लिस्ट के माध्यम से कॉल कर लोन रिकवरी का झांसा देते हैं व गुमराह करते हैं. ऐसे लोन ऐप से बचकर रहना चाहिए.

#7 एडवांस पेमेंट संबंधित जानकारी रखें

लोन ऐप में किसी भी तरह का एडवांस पेमेंट ना करें. लोन ऐप के ज़रिए लोन अप्रूव होने का दावा कर प्रोसेसिंग फीस के रूप में एडवांस पेमेंट माँगी जाती है. इस तरह के ऐप से बचें.

#8 बैंक डिटेल्स देने से पहले सही जानकारी लें

लोन के लिए बैंक डिटेल्स लेने वाले ऐसे ऐप से सावधान रहना चाहिए जो बैंक अकाउंट के अलावा बैंक संबंधित पर्सनल जानकारी माँगता है. ऐसे ऐप से लोन ना लेना ही समझदारी है.

#9 लोन ऐप से जुड़े रिव्यू की जानकारी रखें

लोन ऐप को डाउनलोड करने से पहले ऐप के रिव्यू पढ़ना चाहिए ताकि उस ऐप से संबंधित तथ्य पता चल सकें.

#10 CIBIL अपडेशन का ध्यान रखें

डिजिटल प्लेटफॉर्म से लोन ऐप के बारे में इंटरनेट से जानकारी ज़रूर पता कर लें. ऐसे कई ऐप हैं जो लोन पूरा होने पर CIBIL का परिणाम नहीं दिखाते हैं. अपडेट अकाउंट में नहीं दिखता है जिससे क्रेडिट लोन दिखाई नहीं देता और आगे चलकर लोन लेने में परेशानी आ सकती है.

#11 एनबीएफसी रजिस्ट्रेशन का ध्यान रखें

लोन बैंक के द्वारा प्राप्त किया जा सकता है साथ ही जो कंपनी या संस्था एनबीएफसी द्वारा रजिस्टर्ड हैं वो लोन देने में मान्य होती है. अतः जहाँ से भी लोन लें वह ऐप एनबीएफसी से रजिस्टर्ड है या नहीं यह पता कर लें.

भारत में फेक लोन एप्प की सूची (RBI Banned Fake Instant Loan App List)

ऑनलाइन जहाँ लोन के लिए रजिस्टर्ड ऐप हैं वहीं अनेक Fake illegal loan apps भी हैं जिनको भारत में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा बैन किया गया है. इन Fraud Loan Apps को Playstore से हटा दिए गये है.

तो यह रहे – RBI Banned Fake Chinese Loan Apps in India (New List)

  • कैश होस्ट (Cash Host)
  • मोबाइल कैश (Mobile Cash)
  • इजी क्रेडिट (Easy Credit)
  • स्टोर लोन (Store Loan)
  • मेट्रो फाइनेंस (Metro Finance)
  • गोल्ड कैश (Gold Cash)
  • रूपी स्मार्ट (Rupi Smart)
  • मनी ट्री (Money Tree)
  • लोन फॉर्च्यून (Loan Fortune)
  • कैश पार्क (Cash Park)
  • जोजो कैश (Jojo Cash)
  • फ़्लैश रूपी (Flash Rupi)
  • इनकम लोन (Income Loan)
  • लाइव कैश (Live Cash)
  • सन कैश (Sun Cash)
  • मैजिक मनी (Magic Money)
  • ब्राइट कैश (Bright Cash)
  •  यूनिट कैश (Unit Cash)
  • सन्नी लोन (Sunny Loan)
  •  रॉयल कैश (Royal Cash)
  • मार्वेल कैश (Marvel Cash)
  •  शार्प कॉर्न (Sharp Cash)
  • कैश फिश (Cash Fish)
  • वॉयस लोन (Voice Loan)
  • रूपीक फेंटा (Rupic Fenta)
  • रुपीक बज्ज़ (Rupic Buzz)
  •  एम पॉकेट (M Pocket)
  • मनी पॉकेट (Money Pocket)
  • एक्सप्रेस लोन (Express Loan)
  • एप्पल कैश (Apple Cash)
  • हू कैश (Hu Cash)
  • लोन ड्रीम (Loan Dream)
  • कैश कोल्ला (Cash Cola)
  • फास्ट रूपी (Fash Rupi)
  • इनकम ओके (Income Ok)
  • कैश एडवांस (Cash Advance)
  • एजिले लोन ऐप (Angel Loan App)
  • रश लोन (Rush Loan App)
  • क्विक लोन ऐप (Quick Loan App)
  • क्रेज़ी कैश (Krazy Cash)
  • फोन पे (Phone Pay)
  • जो कैश (Jo Cash)
  • स्काई लोन (Sky Loan)
  • लोन साथी (Loan Sathi)
  • ऑरेंज लोन (Orange Loan)
  • वॉलेट पई (Wallet Pai)
  • कैश होल (Cash Hole) इत्यादि.

 ऐसे ही 1100 से ज्यादा Fake Loan App आरबीआई ने सूची में अंकित किए हैं जिन्हें बैन किया गया है.

शीघ्र लोन देने वाले Fake Loan App की जानकारी

लोगों द्वारा शीघ्र लोन की ज़रूरत को ध्यान में रखकर फेक ऐप बहुत आ गए हैं. लोगों को पैसे की शीघ्र ज़रूरत होती है जिसकी वजह से उन्हें जल्दी लोन की ज़रूरत होती है. ऐसे में सोशल साइट्स पर व इंटरनेट पर अनेक Fake Loan Appके एडवर्टाइजमेंट, लिंक, मैसेज आते हैं इन पर भरोसा नहीं करना चाहिए.

इस तरह के फेक ऐप लोगों को धोखा देते हैं और लोन के नाम पर लोन के लिए ज़बरदस्ती करते हैं और परेशान करते हैं. कोरोना  काल का फायेदा उठा कर बेरोजगार व जिनको पैसों की सख्त ज़रूरत होती है उन्हें टारगेट बनाकर ऐसे ऐप इंटरनेट के ज़रिए फ्रॉड करते हैं.

कुछ शीघ्र लोन देने वाले फेक ऐप इस प्रकार हैं :

वन लोन कैश एनीटाइम, एमआई रुपे, रूपी किंग, हैंडी लोन, गोल्डमैन पेबैक, यूपीए लोन, एक्सेस लोन, लोन ड्रीम, कैश पार्क लोन, वाह रुपया, हू कैश, फर्स्ट कैश, रुपया बॉक्स, क्लियर लोन, रिच, लोन गो,  छोटा लोन, लाइव कैश, हैंड कैश, लोन होम स्माल, सिल्वर पॉकेट, भारत कैश, मनी मास्टर, आसान लोन, कैश माइन, कैश बुक हैंड कैश फ्रेंडली लोन, ओव कैश लोन, स्टार लोन, आसान क्रेडिट, क्रेज़ी कैश, क्विक लोन ऐप आदि.

लोन ऐप से जुड़ी मुख्य बातें – Fake Instant Loan App

आरबीआई द्वारा जारी
Fake Loan Appलिस्ट
क्रेडिट बॉक्स, सुपर वॉलेट, रीच कैश, लाइव कैश, बेस्ट पैसा, लोन क्यूब, रुपया स्मार्ट आदि.
शीघ्र लोन देने वाले फेक ऐपहैंडी लोन, गोल्डन मैन पेबैक, एम आई रुपे, रूपीकिंग, लोन गो, भारत कैश, लोन होम स्मॉल, कैश माइन, आसान क्रेडिट, क्रेज़ी कैश आदि.
रजिस्टर्ड आरबीआई ऐप लिस्टNavi, क्रेडिट बी, कैशे, मनी व्यू, ट्रू बे, एम पॉकेट आदि.

Fake Loan App से जुड़ी ध्यान रखने योग्य बातें

Fake Loan App का मायाजाल इतना ज्यादा हो रखा है कि हज़ार से भी ज्यादा Fake Loan App इंटरनेट में, सोशल साइट में मैसेज के द्वारा भेजे जाते हैं. फेक मैसेज व लिंक फोन में भेजे जाते हैं और डाउनलोड के लिए विवश किया जाता है.

 लोन में ऑफर, कम ब्याज दर, आसान किश्त, सिक्योरिटी न लगना, कम दस्तावेज़ की बात करके भ्रम पैदा किया जाता है ताकि लोग पैसे देने के लिए आकर्षित हों. भारत में Fake Loan App की संख्या 600 से भी ज्यादा है जो लोगों को धोखा देते हैं. ऐसे ऐप से बचने के लिए कुछ बातें ध्यान रखने योग्य हैं :

  • Fake Loan App से लोन लेने से बचना चाहिए. ऐसे ऐप रिकवर नहीं हो पाते हैं. ये फोन के कांटेक्ट लिस्ट से डाटा प्राप्त कर परेशान करते हैं.
  • किसी भी ऐसे ऐप से लोन प्राप्त करने से पहले जानकारी ले लें कि वह ऐप आरबीआई द्वारा मान्यता प्राप्त है कि नहीं.
  • कई ऐप एनबीएफसी से मिलकर लोन की सुविधा देते हैं. ऐसे में उस ऐप की पूरी जानकारी लेनी चाहिए.
  • अगर गूगल प्ले स्टोर से लोन ऐप डाउनलोड करते हैं तो पहले उसका रिव्यू चेक करना चाहिए और पूरी जानकारी लेनी चाहिए.
  • लोन ऐप डाउनलोड करने पर मैसेज, कांटेक्टस, मीडिया की जानकारी शेयर करने के लिए नोटिस आता है उसे ओके ना करें.

रजिस्टर्ड आरबीआई ऑनलाइन लोन ऐप लिस्ट

पैसों की ज़रूरत के कारण लोग ऑनलाइन लोन के लिए अप्लाई करते हैं. ऐसे में Fake Loan App की संख्या बढ़ी है जो धोखा देते हैं. आरबीआई के कई लोन ऐप रजिस्टर्ड हैं व भरोसेमंद हैं. वे हैं :

  • Cash Bean ऐप जो पर्सनल लोन देते हैं.
  • तुरंत लोन देने वाला Mi Credit ऐप.
  • तुरंत लोन देने वाला Kredit Bee ऐप.
  • पर्सनल लोन देने वाला Cashe ऐप.
  • शीघ्र लोन देने वाला Home Credit Personal loan ऐप.
  • Kissht जो शीघ्र लोन देता है.
  • पर्सनल लोन देने वाला Money View ऐप
  • तुरंत लोन देने वाला True Balance ऐप.
  • पर्सनल लोन और स्टूडेंट को शीघ्र लोन उपलब्ध कराने वाले Dhani ऐप.
  • शीघ्र लोन देने वाला Navi ऐप आदि.
  • लोन चाहिए तो मिलेगा Paytm Loan App से.

Fake Loan App से बचने के उपाय

  • Fake Loan App वाले एडवांस के नाम पर प्रोसेसिंग चार्ज के ज़रिए अधिक पैसे की माँग करते हैं जबकि सही ऐप ऐसा कुछ नहीं करते हैं. तो जानते हैं ऐसे फेक लोन एप से कैसे बचें –
  • अगर फोन में लोन संबंधित कोई मैसेज आता है जिसमें लिंक भेजा गया हो तो कभी उस पर क्लिक ना करें.
  • फोन में unknown source से आने वाले लोन संबंधित किसी भी मैसेज पर ध्यान ना दें.
  • अगर फोन में मैसेज के ज़रिए कोई भी जानकारी जो बैंक स्टेटमेंट व अकाउंट से जुड़ी हो शेयर नहीं करनी चाहिए.
  • किसी भी नंबर से ऐसे मैसेज आते हैं उन्हें ब्लॉक कर दें ताकि फ्रॉड ना किया जा सके.
  • लोन से संबंधित फेक मैसेज या फोन आए तो पुलिस से संपर्क करें.
  • लोन के नाम पर अगर फेक नंबर से कॉल आए तो उस नंबर को ब्लॉक कर साइबर सेल में शिकायत कर दें.

ऑनलाइन Fake Loan App के फ्रॉड से बचाव के उपाय

  • Fake Loan Appको डाउनलोड करने से बचें.
  • कम लोन या शीघ्र लोन के चक्कर में पड़कर बिना प्रॉपर जानकारी लिए कोई भी कदम नहीं उठाए बल्कि पर्सनल रूप से किसी लोन देने वाले रजिस्टर्ड बैंक या संस्थान से जानकारी प्राप्त करें.
  • किसी भी अनजान नंबर या व्यक्ति को अपने पर्सनल दस्तावेज़ शेयर नहीं करने चाहिए.
  • किसी भी प्रकार के ऑनलाइन फ्रॉड की शंका होने पर साइबर हेल्प लें.

FAQs: Fake Loan Apps List In India

क्या Fake Loan App बैंक से जुड़ी पर्सनल जानकारी माँगते हैं?

हाँ, Fake Loan Appबैंक से जुड़ी पर्सनल जानकारी माँगते हैं.

क्या लोन संबंधित फोन में आए मैसेज व लिंक सुरक्षित होते हैं?

लोन से संबंधित फोन में आए मैसेज व लिंक सुरक्षित नहीं होते हैं.

लोन लेने से पहले क्या पूरी जानकारी लेना आवश्यक होता है?

हाँ, लोन लेने से पहले पूरी जानकारी लेना आवश्यक होता है ताकि फ्रॉड से बच सकें.

निष्कर्ष – RBI Banned Fake Loan Apps In Hindi

तो साथियों इस पोस्ट में हमने आपको (Reserved Bank Of India) Fake Loan Apps list सांझा की है, उम्मीद है यह जानकारी आपके काम आई होगी और आप इसे दोस्तों के साथ शेयर भी करेंगे.

5/5 - (1 vote)

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम रणजीतसिंह है और मै एक प्रोफेशनल ब्लॉगर और एक Youtuber हूँ. LoanKaise.com ब्लॉग पर हम आपको विभिन्न प्रकार के लोन विकल्पों के बारें में विस्तार से बताते है. इस ब्लॉग पर हम किसी भी प्रकार का लोन नहीं देते, बस लोन सम्बंधित सही जानकारी आपके साथ शेयर करते है. ब्लॉग पर आने के लिए धन्यवाद!

4 thoughts on “600+ RBI Banned Fake Instant Loan Apps List In India 2022 (Hindi)”

  1. রুপি রেডডি থেকে 9000হাজার টাকা লোন নিয়ে ছি ওরা আমাকে 7049টাকা আমার ব্যাঙক কে জমা করে ছে এখন আমার কাছে থেকে 11546টাকা দাবি করেছে এখন আমি কি করবো

    मैंने रुपये रेड्डी से 9000 हजार रुपये का कर्ज लिया है उन्होंने मेरे बैंक खाते में 7049 रुपये जमा कर दिए हैं अब उन्होंने मुझसे 11546 रुपये की मांग की है अब मैं क्या करूँ

    Reply
    • আপনি তাদের জিজ্ঞাসা করুন কেন বেশি টাকা চাওয়া হচ্ছে। কারণ কী তা তারা না জানালে ভোক্তা আদালতে বা থানায় লিখিত অভিযোগ করতে পারেন। মনে রাখবেন যে শুধুমাত্র Hamsa (Navi, Paytm) এর মত একটি নির্ভরযোগ্য অ্যাপ থেকে ঋণ নিন।

      आप उनसे पूछिए किस बात का ज्यादा पैसा माँगा जा रहा है. यदि वे नहीं बताते है की क्या कारण है तो आप कांसुमेर कोर्ट या पुलिस में लिखित शिकायत कर सकते है. ध्यान रखे की हमेंशा (Navi, Paytm) जैसे विश्वसनीय एप्प से ही लोन लेवें.

      Reply

Leave a Comment